Uncategorized Obesity is one of the most common people today, Manage it with Niramay Swasthyam.

Obesity is one of the most common people today, Manage it with Niramay Swasthyam.


Obesity is one of the most common people today, Manage it with Niramay Swasthyam.

Spread Awareness

Weight management मोटापा आज सबसे आम रोगो में से एक है, इसे निरमाय स्वास्त्यम से ठीक करें।

Obesity is one of the most common people today, Manage it with Niramay Swasthyam.

मोटापा आजकल होने वाले सबसे आम लोगों में से एक है। बहुत लोगों को यह बड़ी तकलीफ देता है। मोटे शरीर की वजह से लोगों के बीच में शर्म भी आती है। दूसरों का सुडौल शरीर देखकर और अपना मोटापा देखकर बहुत दुख होता है। आजकल लोग बड़े प्रयास करते हैं, मेहनत भी बहुत करते हैं, बहुत सारी दवाईयां भी खाते हैं परंतु फिर भी वह मोटापे को कम नहीं कर पाते। सही तरीके से देखने जाए तो यह मोटापा जो है उसे आराम से मिटाया जा सकता है। हमारे शरीर में हुई कोई भी तरह के हलचल अव्यवस्था को जैसे के मोटापा इसे मिटाया जा सकता है परंतु उसका सही पथ मिलना बहुत जरूरी है। वैसा एक सही रास्ता निरामय स्वास्थ्य बेस्ट आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट सेंटर के द्वारा वैद्य योगेश वाणिजी समाज को दे रहे हैं। तो आइए पहले देखते हैं मोटापा कैसे आता है और कैसी कैसी तकलीफ देता है।

हमारी खराब जीवनशैली और आदतों की वजह से खाने पीने के तरीके से और मानसिक असंतुलन जेसे कई कारणों के द्वारा मोटापा बढ़ता है और तकलीफ है पैदा करता है। बढ़ता हुआ वजन ना केवल हमारे शारीरिक गतिविधियों को प्रभावित और खराब करता है, बल्कि वह हमें भावनात्मक रूप से भी बहुत नुकसान पहुंचाता है। यह न केवल  हमारा आत्मविश्वास कम करता है, बल्कि हमें आलसी बना कर एक ऐसी जीवन शैली का गुलाम बना देता है जो शरीर को बीमारियों का घर बना देती है। हमारे काम में, हमारी पर्सनालिटी में, हमारे स्वभाव में, हमारी इच्छा शक्ति में हर जगह मोटापे की असर होती है।

वजन को कम करने के लिए हम बहुत सी प्रभावशाली असरकारक आहार प्रणाली को (डायट प्लान) अनुसरण करना शुरू कर देते हैं, परंतु यह भी किसी ना किसी कारण से ज्यादा समय तक नहीं कर पाते हैं। जिम के द्वारा व्यायाम करना शुरू करते हैं परंतु वह भी नहीं टीका पाते।

इसी की वजह से आयुर्वेद एक ऐसा रास्ता दिखाता है जो बहुत ही जरूरी है। वजन कम करने के लिए ना सिर्फ शारीरिक परंतु भावनात्मक और मानसिक तरीके से भी ध्यान देना जरूरी होता है। आयुर्वेद सिर्फ भोजन शैली और दवाइयों पर ही आधारित नहीं है। परंतु यह हमारे पूर्णा शारीरिक और मानसिक विकास पर ध्यान देता है। अगर कोई व्यक्ति भावनात्मक वह मानसिक रूप से स्वस्थ है तो वह खुद को शारीरिक रूप से भी स्वस्थ रख सकता है ऐसा आयुर्वेद मे माना गया है।

मोटापा काम करने की महत्वपूर्ण और असरकारक चीजें :-

भोजन

हमारा पाचन तंत्र हमें स्वस्थ रखने में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आयुर्वेद के अनुसार हर मनुष्य का काम किस तरीके से है उस तरीके का भोजन लेना चाहिए वह बताया गया है। परंतु सब को मिलाकर देखा जाए तो सुबह और दोपहर में हमें अच्छा और भारी भोजन करना चाहिए। परंतु रात का भोजन बहुत हल्का होना चाहिए और उसके 2 घंटे तक सोना नहीं चाहिए। और हर एक भोजन के बीच में कम से कम 6 से 7 घंटे का समय होना चाहिए। इसी वजह से पाचन तंत्र स्वस्थ रहता है और पूरा खाना पाचन होता है और विषैले तत्व शरीर से बाहर निकल जाते हैं और हम स्वस्थ रह पाते हैं। और भोजन में क्या लेना चाहिए और क्या नहीं यह भी जानना बहुत आवश्यक है।

नींद

नींद हमारी जीवनशैली में बहुत महत्वपूर्ण घटक है। और नियमित नींद की वजह से वजन में वृद्धि होती है। पूरी और गहरी नींद ना लेने की वजह से बीमारियों का खतरा भी बहुत बढ़ जाता है। इसीलिए गहरी नींद लेना हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है। 10:00 बजे तक सोना और ब्रह्म मुहूर्त में उठना स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक है।

व्यायाम

आयुर्वेद के अनुसार सुबह कसरत करना सबसे अच्छा माना जाता है। यह समय वातावरण में ऑक्सीजन की मात्रा भी सबसे अधिक होती है। वातावरण में  ठंडक और ताजगी के साथ सकारात्मक असर होती है। हर रोज का 30 से 40 मिनट का व्यायाम शरीर में आलस को दूर रखता है और मन को मजबूत रखता है।

गर्म पानी

गर्म पानी वजन कम करने का असरकारक प्राकृतिक तरीका है। आजकल खाया जाने वाला जंक फूड, पैकेट वाला खाना, वातावरण का प्रदूषण ऐसे कई अप्राकृतिक तत्वों की वजह से शरीर में विषैले पदार्थ एकत्रित होते हैं। यह गर्म पानी ऐसे विषैले तत्वों को शरीर से बाहर निकाल देता है। अगर कोई व्यक्ति दिन में हर आधे घंटे बाद गर्म पानी पीते हैं तो वह व्यक्ति का वजन ज्यादा रूप से घटकर नियंत्रित हो जाता है।

ध्यान

वजन बढ़ने का एक बड़ा कारण मानसिक तनाव है। तनाव की वजह से हार्मोन की वजन घटाने की शक्ति खत्म हो जाती है। ध्यान लगाने की वजह से ऐसे हार्मोन नियंत्रित होते हैं। और यह हार्मोन के नियंत्रण से वजन कम भी हो जाता है। इसीलिए पाचन तंत्र के साथ मन को नियंत्रित रखना भी बहुत जरूरी है। मन को नियंत्रित रखने के लिए ध्यान सबसे असरकारक चीज है। हर रोज ध्यान करना वजन कम करने के अलावा बहुत सारे फायदे देता है।

निरामय स्वास्थ्यम् (Best Ayurvedic Treatment Center, Niramay Swasthyam) के द्वारा वजन घटाने के लिए आयुर्वेद का सही मार्गदर्शन देते हुए पूरे देश में ख्यातनाम ऐसे वैद्य योगेश वाणिजी के द्वारा निशुल्क व्याख्यान लिया जाता है। जिसमें आप की जीवन शैली, सोच, रसोईघर और आयुर्वेद की मदद से आपका मोटापा किस तरीके से कम किया जाए वह बताया जाता है। निशुल्क नाड़ी परीक्षण के द्वारा सही मार्गदर्शन दिया जाता है। अनगिनत लोगों को बढ़ते हुए वजन की परेशानी से मुक्त किया है। आपको भी यह निशुल्क व्याख्यान और निशुल्क नाड़ी परीक्षण का लाभ ले सकते हैं। जल्दी से अपनी जीवन शैली में आयुर्वेद को अपनाएं और अपने जीवन को स्वस्थ वह आनंदमई बनाए।


स्वस्थ रहो मस्त रहो।


Spread Awareness

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *