Mon-Fri(9am-7pm)

Arogya Mandir

569, Ambika nagar, Amroli, Surat, Gujarat 394107

Spread Awareness

आयुर्वेद के अनुसार कोई भी रोग का निदान हो सकता है चाहे वह सामान्य दाद और खुजली हो या बहुत परेशानी देने वाला कई सालों से ना छुटने वाला सोरायसिस।

Best Ayurvedic Nidan for Psoriasis by Niramay Swasthyam

अगर सही दिशा में और सही तरीके से निदान किया जाए तो आपका रोग ठीक हो ही सकता है। सोरायसिस को मिटाने में वैद्य योगेश भाई वाणी जी सफल रहे हैं। उन्होंने निरामय स्वास्थ्यम् के द्वारा असंख्य (6000+) दर्दीओं को सोरायसिस से मुक्ति दिलाई है।

यह कैसे हो सकता है?

कोई भी रोग होने का कारण शरीर के सप्तधातु में से किसी का बिगड़ना और उसका असंतुलित होना ही होता है।

वह साथ धातु है,  रस, रक्त, मास, मेद, अस्थि, मज्जा, शुक्र।

वैद्य योगेश वाणी जी के अनुसार रक्त धातु के बिगड़ने की वजह से सोरायसिस होता है।

पहला सवाल है रोग क्यों हुआ?

रक्त धातु के शरीर में संतुलन में असमानता हुई।

दूसरा सवाल है यह कैसे हुआ?

इसका जवाब है आप जो शरीर में अन्न खा रहे हो उसका पाचन होना चाहिए, पर उसका पाचन नहीं हो रहा है, इसलिए वह सड रहा है।

मतलब कारण है, अन्न का सड़ना।

परंतु जो निदान होता है वह किसका होता है जो बाहर से त्वचा पर लाल पैच दिखते हैं, खुजली आती है, इंफेक्शन होता है, ऐसे ही जो सोरायसिस के त्वचा के ऊपर बाहरी शरीर में जो चिह्न दिखते हैं सिर्फ उसी के लिए कार्य होता है, उसी के ऊपर कार्य होता है। उसके लिए सिर्फ बाहर से लगाने का और उसे मिटाने का दवा दिया जाता है। इसलिए यह सिर्फ टेंपरेरी अच्छा होता है और बाद में बड़ी फरियाद आती है कि हमने बहुत दवा कराई बहुत डॉक्टर से मिले पर यह फिर से हो जाता है अच्छा नहीं होता।

ऐसा ही होगा क्योंकि यह सिर्फ बाहर से दवाई हुई है पर रोग का जो कारण है वह तो वहां ही पड़ा है, वह तो उसका काम कर ही रहा है, उसको अटकाने के लिए कुछ प्रयास नहीं हुए हैं। तो आप कितनी भी बाहरी दवाई कर लो और फिर भी यह तो फिर से आ ही जाएगा।

सोरायसिस जरूर मिटता है,

परंतु ऐसी बहुत सारी बातें हैं जो आप करते हैं तो सोरायसिस जरूर मिटता है। खाली दवाई ही सब कुछ नहीं है और डॉक्टर भी सब कुछ नहीं है। पर फिर भी हम सिर दवाई और डॉक्टर पर ही आधारित हो जाते हैं। और यह रोग के लिए खुद को ही कुछ करना होगा।

तो इसके लिए निरामय स्वास्थ्यम् (Best Ayurvedic Treatment Center, Niramay Swasthyam) के द्वारा वैद्य योगेश वाणी जी ने आरोग्य व्याख्यान से रोग मुक्ति का अभियान हाथ लिया क्योंकि जब आप डॉक्टर के पास जाते हो तो आपको दवाई दी जाती है, आजीवन लेने के लिए दवाई दी जाती है, रोग कुछ समय के लिए ही अच्छा होता है, और रोग उम्र भर रहता है।

related article : More Easy-To Cure Your Psoriasis In 2021 with Ayurveda

5 भाग में विभाजित

इसलिए निरामय स्वास्थ्यम् के द्वारा यह इलाज को 5 भाग में विभाजित कर दिया गया। और इसे आरोग्य व्याख्यान के द्वारा हर एक व्यक्ति को दिया जाता है जिससे उनका सोरायसिस अच्छा होने का चांसेस बढ़ जाता है।

Ancient treatment by Niramay Swasthyam

1) सोच

हमारी तो सोच है हमारे जो विचार है, यह सीधे हमारे शरीर की सारी प्रक्रियाओं पर असर करता है। तो फिर कैसे-कैसे विचारों की वजह से आपके शरीर में रोग प्रतिकारक शक्ति कम होती है और बढ़ती है, आपके शरीर की सारी प्रक्रिया अच्छे से चलती है यह समझाया जाता है।

2) जीवन शैली

हमने जाना कि रक्त धातु के असंतुलन की वजह से ही सोरायसिस बढ़ता है,तो फिर कुछ ना कुछ ऐसी आपकी जीवनशैली रही होगी जिसकी वजह से आप का पाचन सही से नहीं होता है या आप ऐसी चीजें खाते हैं जो पचने के लिए और आगे शरीर में कार्य करने के लिए अच्छी नहीं है। और पाचन के लिए क्या-क्या करना चाहिए जिसकी वजह से रक्त धातु और दूसरी भी सारी धातुओं का संतुलन बना रहे यह सारी चीजें आपकी जीवनशैली के द्वारा बताई जाती है। यह चीज को मिटाने के लिए आप की जीवन शैली में क्या-क्या परिवर्तन लाने जरूरी है यह समझाया जाता है।

3) प्राकृतिक

आजकल हम बहुत सारी ऐसी चीजें लेते हैं जो अप्राकृतिक है। परंतु हमारा शरीर ही एक प्राकृतिक चीज है तो उसको अच्छा होने के लिए उसको भी प्राकृतिक तरीके से बनी हुई चीजें ही देनी चाहिए तो उसमें क्या क्या देना चाहिए शरीर को प्राकृतिक तरीके से कैसे जुड़े यह सारी चीजों का विधि पूर्वक वर्णन समझाया जाता है। क्योंकि इसकी वजह से ही शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है।

4) रसोईघर

हमारे रसोई घर में जो परिवर्तन लाना है यह भी बताया जाता है। क्योंकि हमारे रसोई घर में ही बहुत सारी ऐसी औषधि है जिसका सही ज्ञान घर में रही सारी बीमारियों को मिटाने के लिए सक्षम है। शरीर में आए हुए रोक को मिटाने के लिए हमारे रसोई घर में क्या-क्या परिवर्तन करना चाहिए यह भी समझाया जाता है। जिससे शरीर का क्लींजिंग प्रोसेस होता है और कचरा बाहर निकल जाता है।

5) आयुर्वेद

सबसे अंत में आज की जीवन शैली में हम बहुत सारी ऐसी चीजें यूज़ करते हैं जो सर से पांव तक केमिकल से ही भरी होती है। इसलिए वैद्य के द्वारा बनाए गए आयुर्वेद के फार्मूला के द्वारा प्राकृतिक दवाओं का उपयोग करके निदान किया जाता है।

ऐसी बहुत सारी छोटी छोटी चीजों पर वैद्य जी के द्वारा रिसर्च किया गया। और यह सारी चीजों का उपयोग करके निरामय स्वास्थ्यम् उनके द्वारा बहुत सारे दर्दियो को सोरायसिस से मुक्त किया गया है। आप YouTube के द्वारा निरामय स्वास्थ्यम् की हर एक सोशल मीडिया प्रोफाइल के द्वारा आप अनगिनत लोगों को देख सकते हैं जो सोरायसिस मुक्त हुए हैं। ऐसे ऐसे दर्दी है जिनको जन्म से 30 – 30 सालों से सोरायसिस था वह भी मिट गया है।

Psoriasis Testimonial Video of Patients by Niramay Swasthyam

इसलिए हम कहते हैं अशक्य कुछ भी नहीं है। अगर रोग की उत्पत्ति हुई है तो उसका नाश भी सक्य है। परंतु इसके लिए आपको निर्धार करना होगा कि मुझे स्वस्थ होना है।

अगर आप निर्धारित करते हो मुझे स्वस्थ होना है तो आप sure अपने रोग से cure हो सकते हैं। अगर जो आप कमिटमेंट देते हैं निरामय स्वास्थ्यम् (Best Ayurvedic Treatment Center, Niramay Swasthyam) के द्वारा भी कमेंटमेंट दी जाती है अगर आप जीवन शैली बदलेंगे तो आप भी सोरायसिस से मुक्ति पाएंगे।

इसके लिए निरामय स्वास्थ्यम् में 1 घंटे का निशुल्क काउंसलिंग सेशन रखा जाता है जिसे आरोग्य व्याख्यान कहा जाता है।

इसलिए आपका सोरायसिस मिट सकता है अगर आपको सही मार्गदर्शन मिले तो। इसलिए राजीव दीक्षित प्रेरित लक्ष्मी नारायण चैरिटेबल ट्रस्ट के द्वारा निरामय स्वास्थ्यम् में वैद्य योगेश वाणी जी के द्वारा यह व्याख्यान निशुल्क लिया जाता है। 9909257766

और निशुल्क नाड़ी चेकअप के द्वारा आप का सही इलाज किया जाता है।


स्वस्थ रहो, मस्त रहो


Spread Awareness
TopBack to Top