The easiest and Ayurvedic way to increase B12 |
3413
post-template-default,single,single-post,postid-3413,single-format-standard,bridge-core-2.8.4,pmpro-body-has-access,qodef-qi--no-touch,qi-addons-for-elementor-1.3,qode-page-transition-enabled,ajax_fade,page_not_loaded,,qode-theme-ver-26.8,qode-theme-bridge,disabled_footer_top,disabled_footer_bottom,qode_header_in_grid,elementor-default,elementor-kit-1289

The easiest and Ayurvedic way to increase B12

B12 को बढ़ाने का सबसे आसान और आयुर्वेदिक तरीका by Niramay Swasthyam

The easiest and Ayurvedic way to increase B12

विटामिन B12 की कमी आज आम बात बन गई है।

तो क्या कोई आयुर्वेदिक तरीका है जिससे B12 की कमी मिटा पाए ??

कोई ऐसा रास्ता है जिससे B12 को आसानी से बड़ा पाए ??

The easiest and Ayurvedic way to increase B12

B12 को बढ़ाने का सबसे आसान और आयुर्वेदिक तरीका

वैसे अगर देखने जाए तो शरीर में कोई भी विटामिन की कमी हो उसे पूरा करना हमारी जिम्मेदारी होती है। जिस तरीके से अगर वाहन को चलाना है तो पेट्रोल, इंजन ऑयल, ब्रेक यह सब चीजें बराबर होनी चाहिए इसी तरीके से शरीर को चलाना है तो उसकी भी सिस्टम, प्रणाली व्यवस्थापन में होनी जरूरी है। अगर इनमें से कोई भी चीजों में गड़बड़ी होती है!! तो हमारे जीवन में भी वहां असर करता है।

तो शरीर के बारे में दिखा जाए तो पाचन, स्वसन, निंद्रा ऐसी कई सारी चीजों का संतुलन (balance) रखना भी बहुत जरूरी है।

और यह चीजों में हर तरीके के विटामिन का सही प्रमाण भी संतुलन (balance) होना बहुत आवश्यक है।

जिस तरीके से विटामिन डी की कमी से हड्डियां कमजोर होती है,

विटामिन सी की कमी से चमड़ी के रोग होते हैं, उसी तरह से हर विटामिन के शरीर में मात्रा कम होने की वजह से स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ता ही है।

काफी लोग खाने में कुछ चीजें नहीं लेते हैं और बोलते हैं के विटामिन की कमी से कुछ फर्क नहीं पड़ता। परंतु यह गलत बात है कोई भी विटामिन की कमी आपके स्वास्थ्य पर प्रभाव करती ही है। और अगर सही भोजन ना लिया जाए सही विटामिन ना लिए जाए तो विटामिन की कमी का शरीर में और स्वास्थ्य में असर होता है, उसका खामियाजा आपको भुगतना ही पड़ता है।

वैसे ही एक विटामिन B12 के बारे में आज हम देखेंगे।

आज कई दर्दियो को देखा जाए तो B12 की कमी आम बात हो गई है। हमारे घर में, सोसाइटी में, मोहल्ले में, गांव में आप देख लीजिए विटामिन B12 की कमी वाले लोगों की बढ़ोतरी हो रही है। आज लोग उसके लिए इंजेक्शन लेते हैं। और उसकी भी मात्रा बहुत अधिक होती है।

अगर ध्यान से देखा जाए तो यह कमी बहुत सालों पहले नहीं थी। यह समस्या थोड़े कुछ सालों में ही बड़ी हुई दिखाई देती है।

तो क्या यह पहले लोगों को समस्या नहीं आती थी ?

अगर पहले के जमाने में लोगों को यह समस्या नहीं थी तो वह ऐसा क्या करते थे ?

तो आइए देखते हैं जिस तरीके से विटामिन हमारे स्वास्थ्य और शरीर की देखभाल करता है, उसी तरीके से विटामिन B12 हमारे शरीर का बहुत ही जरूरी तत्व है।

इसकी कमी से शारीरिक के साथ-साथ मानसिक समस्याओं का भी सामना करना पड़ सकता है। इसकी कमी के कारण हमें चलने में परेशानी के अलावा सांस लेने में समस्या और एनीमिया तक की शिकायत भी हो सकती।

यह समस्या को देखते हुए चलिए हम जानते हैं इसके बारे में कुछ खास बातें और आखिर ऐसी कौन सी चीज है! कौन सा खाना है! कौन सी ऐसी रीत है!

जिससे इस विटामिन B12 की कमी को पूरा किया जा सकता है।

विटामिन B12 के लक्षण

  • स्किन का पीला पड़ जाना।
  • जीभ में दाने या फिर लाल पड़ जाना।
  • मुंह में छाले होना।
  • आंखों की रोशनी का कम होना।
  • डिप्रेशन बढ़ना।
  • अधिक कमजोरिया सुस्ती आना।
  • सांसो का फूल जाना।
  • सिर दर्द होना।
  • भूख कम लगना।

विटामिन B12 से होने वाली बीमारियां

अगर शरीर में विटामिन B12 की कमी है तो

ऐसे में आपको एनीमिया, थकान, स्मृति ह्रास, मिजाज बिगड़ना, चिड़चिड़ापन, झुनझुनी या हाथ पैर में अकड़न, दृष्टि दोष, मुंह के छाले, कब्ज, दस्त, मस्तिष्क संबंधी बीमारियां और बांझपन जैसी समस्याएं हो सकती है।

ऐसे में आपको कई बात को कभी भी नजर अंदाज नहीं करना चाहिए और अगर यह तकलीफ है तो अपने खानपान संबंधी अधिक ध्यान देना चाहिए और डाइट पर भी ध्यान देना चाहिए।

विटामिन B12 से भरपूर खुराक

  • दूध :- दूध का सेवन शरीर में विटामिन B12 की कमी को दूर रखता है। दूध में भरपूर मात्रा में कैल्शियम के साथ-साथ विटामिन B12 भी पाया जाता है। इसलिए दूध से बनी सभी भाइयों का सेवन करना अच्छा है। आप चाहे तो दूध और दही का भी सेवन कर सकते हैं।
  • पनीर :- जैसे कि हमने देखा कि दूध के अंदर B12 मौजूद होता है, इस वजह से पनीर में भी ज्यादा से ज्यादा विटामिन B पाया जाता है। पनीर को आप अलग अलग तरीके से बना कर खाए और आपके स्वास्थ्य में विटामिन B को पाए।
  • ब्रोकली :- आप अपने डाइट में ब्रॉक लेसनर मिल कर सकते हैं। हालांकि यह हर किसी को खास पसंद नहीं आती पर इसके बावजूद इसका सेवन करना अधिक फायदेमंद है। ब्रोकली में विटामिन B12 के साथ फ्लैट होता है, जो शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी भी कौन करता है।

यह सारे ऐसे खुराक है जिसकी वजह से जिसके सेवन करने से शरीर में B12 की बढ़ोतरी कर सकते हैं। आजकल B12 के लिए लोग इंजेक्शन लेते हुए पाए जाते हैं। और यह बात समझ ना हमें बहुत जरूरी है और प्राकृतिक रूप से ली हुई कोई भी दवाई या ऐसे इंजेक्शन शरीर में टेंपरेरी असर कर सकते हैं और लिवर, किडनी जैसे अंग में नुकसान भी पहुंचा सकते हैं।

B12 को बढ़ाने का सबसे आसान और आयुर्वेदिक तरीका

B12 improve tips by niramay swasthyam B12 improve tips by niramay swasthyam

सुबह उठने के तुरंत बाद बासी मुंह गुनगुना पानी पिए और

पूरे मुंह में उंगली से कुल्ला कीजिए और उसे निगल जाए।

यह एक ऐसा तरीका है, जो आसानी से शरीर में B12 की कमी को दूर करता है और B12 की बढ़ोतरी करता है।

ऐसे लोग जिनमें B12 की मात्रा बहुत कम होती है,

वैसे लोगों में भी यह तकनीक से बहुत असर कारक और जल्दी रिजल्ट मिले हैं। आप भी यह तकनीक को अपनाएं और B12 को बढ़ाए। और आपको मिले सकारात्मक रिजल्ट को हमारे साथ शेयर करें।

ऐसे शरीर में होने वाले कोई भी कमियों को पहले से जानने के लिए निरामय स्वास्थ्यम् के द्वारा किए जाने वाला निशुल्क बॉडी चेकअप का लाभ लीजिए। और साथ-साथ इंटरनेशनल अवार्ड से सम्मानित वैद्य योगेश वाणी जी के द्वारा निशुल्क नाड़ी चेकअप करके आपके शरीर की प्रकृति को जाना जाता है और यह दोषों का नियंत्रण किस तरीके से करें यह भी मार्गदर्शन दिया जाता है साथ-साथ सही निदान पाए।

क्योंकि स्वास्थ्य बिगड़ने के बाद जो करते हैं, वह जरूरी है। परंतु स्वास्थ्य ना बिगड़े उसके लिए जो करते हैं वह समझदारी है।

तो समझदार बनिए और आपके कोई भी रोगों का इलाज आयुर्वेद के सर्वश्रेष्ठ वैद्य के द्वारा निरामय स्वास्थ्यम् (Best Ayurvedic Treatment Center, Niramay Swasthyam) में पाइए।

निशुल्क बॉडी चेकअप के लिए अपॉइंटमेंट बुक कराएं 9825440570

Click here for YouTube Channel

सही जीवन शैली कहां से पता चलेगी?

निरामय स्वास्थ्यम् (Best Ayurvedic Treatment Center, Niramay Swasthyam) के द्वारा वैद्य योगेश वाणिजी समाज में स्वास्थ्य की जागृति के लिए बहुत प्रयास कर रहे हैं। (संपर्क नंबर – 9825440570)

लोगों को स्वास्थ्य मिले उसके लिए कई निशुल्क प्रवृत्तियां भी शुरू की है। उसमें सबसे महत्वपूर्ण निशुल्क प्रवृत्ति निशुल्क रोग मुक्ति व्याख्यान है। इसके अलावा भी हर हफ्ते उनके द्वारा निशुल्क स्वास्थ्य केंद्र लिया जाता है। जिसका उद्देश्य यही है की हर मनुष्य स्वास्थ्य के बारे में जागृत हो, स्वस्थ रहने का विज्ञान समझे, और जो जीवनशैली अपनाएं उसकी वजह से उनके स्वास्थ्य में लाभ हो। क्योंकि स्वस्थ व्यक्ति ही स्वस्थ समाज बना सकता है और स्वस्थ समाज से ही स्वस्थ देश का निर्माण होता है। इसीलिए स्वास्थ्य प्राप्त करने के लिए निरामय स्वास्थ्यम् के द्वारा चलने वाले ऐसे निशुल्क स्वास्थ्य की प्रवृत्तियों का लाभ लीजिए और समाज में जागृति फैलाए।

ज्यादा जानकारी के लिए संपर्क करे +91 98254 40570

अब स्वस्थ रहना है, बड़ा आसान।


स्वस्थ रहो मस्त रहो

Niramay Swasthyam​​​ Best Ayurvedic Treatment Center

स्वस्थ रहो मस्त रहो

No Comments

Post A Comment